हिमाचल प्रदेश का भोगौलिक परिचय (Geographical Introduction of Himachal Pradesh )

Facebook
WhatsApp
Telegram

Geographical Introduction of Himachal Pradesh | Geographical Introduction of Himachal Pradesh in Hindi | हिमाचल प्रदेश का भौगौलिक परिचय

हैलो दोस्तों स्वागत है आपका dailyhimachalgk.com पर।

आज हम इस लेख में हिमाचल प्रदेश के भागौलिक परिचय के बारे में पढ़ेंगे जिसमें की हमने हिमाचल प्रदेश की आगामी परीक्षाओं में पूछे जाने वाले प्रश्नों का वर्णन भी किया है। यदि आप हिमाचल प्रदेश के विभिन्न परीक्षाओं की तयारी कर रहे हैं तो यह प्रशन आपको Himachal Pradesh के किसी भी Competitive Exam को क्रैक करने में उपयोगी सिद्ध होंगे। यदि इस लेख में हमारी ओर से कुछ भी गलती नजर आए तो आप कॉमेंट के माध्यम से हमें अवगत करवाए ताकि हम उस गलती को ठीक कर सकें।

हिमाचल प्रदेश का भोगौलिक परिचय (Geographical Introduction of Himachal Pradesh )
हिमाचल प्रदेश का भौगौलिक परिचय

जानिए क्या है इस Post में

हिमाचल प्रदेश का भोगौलिक परिचय ( Geographical Introduction of Himachal Pradesh )

हिमाचल का शाब्दिक अर्थ

हिमाचल शब्द संस्कृत के दो शब्दों की सन्धि से बना है । हिम का अर्थ है – बर्फ और अचल का अर्थ है – पर्वत । अत : बर्फ के पर्वत को ही हिमाचल कहा जाता है ।

या ऐसा प्रदेश जो कि बर्फीले पहाड़ों में बसा हो ।

हिम का अर्थ , हिमाचल प्रदेश के संदर्भ में पवित्रता , सफेदी तथा निषकपट से लिया जा सकता है , क्योंकि बर्फ भी शुद्ध , निष्कलंक तथा बेहद ठण्डी होती है । ये सब विशेषताएं अपने आप में हिमाचल प्रदेश को एक नई पहचान देती हैं । ” अचल ” जिसका अर्थ पहाड़ है , यहां वह निरन्तरता , बलशाली , विश्वसनीय तथा संवेदनशील गहराई को प्रदर्शित करता है ।

हिमाचल प्रदेश अपने आप में एक लघु संसार है , जहाँ पहुँचने के लिए पंजाब के मैदानों या शिवालिक पहाड़ियों या शिमला की पहाड़ियों के मध्य रास्ते से सुन्दर , शांत एवम् आकर्षक प्रदेश में प्रवेश मिलता है । प्रदेश की उच्च पर्वत चोटियों पर सारा वर्ष बर्फ का जमा रहना इस नाम को और भी सार्थक करता है ।

हिमाचल प्रदेश की स्थिति (भौगोलिक)

सांस्कृतिक और भौगोलिक रूप से हिमाचल प्रदेश हिमालय के पश्चिमी भाग में स्थित है । हिमालय पर्वत केवल पत्थर और मिट्टी का पहाड़ नहीं बल्कि यह भारत देश की आकांक्षा का प्रतीक है और इस पर्वत के साथ भारत के भूगोल , इतिहास , संस्कृति और साहित्य एवं कला का गहरा सम्बन्ध है । हिमाचल की सीमाएं 1170 किमी॰ है, जो दक्षिण मे हरियाणा, उत्तर में जम्मू-कश्मीर से, पश्चिम में पंजाब से, पूर्व में तिब्बत(चीन), तथा दक्षिण-पूर्व में उतराखंड से लगती है।

  • पंजाब राज्य की सीमा हिमाचल प्रदेश के अधिकतम 5 जिलों को स्पर्श करती है।
  • हिमाचल के कांगड़ा जिला और मंडी जिला सर्वाधिक 6 जिलों की सीमाओं को स्पर्श करते हैं।
  • चम्बा और सिरमौर न्यूनतम 2 जिलों की सीमाओं को स्पर्श करते हैं।

हिमाचल प्रदेश का कुल क्षेत्रफल और जनसंख्या

हिमाचल का कुल क्षेत्रफल 55,673 वर्ग किमी॰ है। यह भारत के क्षेत्रफल का 1.7% है। हिमाचल प्रदेश की जनसंख्या 68,64,602 व्यक्ति 2011 के अनुसार है।

हिमाचल प्रदेश का गठन

हिमाचल का गठन 15 अप्रैल 1948 को 30 छोटी-बड़ी रियासतों को मिलाकर किया गया। जब हिमाचल प्रदेश बना तो हिमाचल प्रदेश में 4 जिलों का निर्माण किया गया ( चंबा, महासु, मंडी और सिरमौर )। महासु जिले का निर्माण 26 छोटी बड़ी रियासतों से मिलाकर बनाया गया । मंडी जिले का निर्माण सुकेत और और मंडी रियासत को मिलाकर बनाया गया। उसी तरह चंबा और सिरमौर जिले का निर्माण किया गया।

1948 से 1951 तक हिमाचल मुख्य आयुक्त क्षेत्र था। 1951 को हिमाचल को ‘ग’ श्रेणी का राज्य बनाया गया। 1956-1971 तक हिमाचल को केंद्र शासित राज्य बनाया गया। अंतत 25 जनवरी 1971 को इसे पूर्ण राज्य का दर्जा प्रदान किया गया और यह देश का 18वां राज्य बना।

हिमाचल प्रदेश की प्रमुख नदियाँ

हिमाचल प्रदेश में कुल 5 नदियां ( सतलुज नदी, ब्यास नदी, यमुना नदी, रावी नदी और चिनाब नदी हिमाचल प्रदेश में बहती है। हिमाचल प्रदेश की सबसे लंबी नदी सतलुज है और यमुना नदी सबसे छोटी है। और चिनाब नदी जल घनत्व के आधार पर सबसे बड़ी नदी है।

सतलुज नदी की लंबाई ( हिमाचल प्रदेश में प्रवाह क्षेत्र )320 किलोमीटर
यमुना नदी की लंबाई ( हिमाचल प्रदेश में प्रवाह क्षेत्र )22 किलोमीटर

हिमाचल प्रदेश के जिले

हिमाचल प्रदेश में कुल 12 जिले हैं। ( कुल्लू, मंडी, शिमला, ऊना, चंबा, सोलन, बिलासपुर, लाहौल स्पीति, किन्नौर, सिरमौर, कांगडा और हमीरपुर) प्रत्येक जिलों का अपना ही महत्व है। कांगड़ा जिला जनसंख्या ( ( 15,07,223 ) 2011 में ) के आधार पर सबसे बड़ा जिला है और लाहौल स्पीति जिला क्षेत्रफल ( 13835 वर्ग किमी ) के आधार पर सबसे बड़ा जिला है। क्षेत्रफल ( 1118 वर्ग किमी ) के आधार पर हिमाचल प्रदेश का सबसे छोटा जिला हमीरपुर है।

अक्षांश30⁰ 22′ 40″ न से 33⁰ 12′ 40″ न
देशांतर75⁰ 45′ 55″ इ से 79⁰ 04′ 20″ इ
ऊंचाई(समुद्र तल से)350 मी से 6975 तक
जनसंख्या(2011 जनगणना)68,64,602 व्यक्ति
पुरुष34,81,873
महिलाएं33,82,729
भौगोलिक क्षेत्र (2011)55,673 वर्ग कि.मी.
घनत्व(प्रति वर्ग किमी)(2011)123
1000 पुरुषों के मुकाबले महिलाएं(2011):972
जन्म दर(प्रति 1000):जन्म दर(प्रति 1000):
मृत्यु दर(प्रति 1000):मृत्यु दर(प्रति 1000):
सामान्य जानकारी

मुख्यतः पूछे जाने वाले प्रश्न । Frequently Asked Questions:

हिमाचल प्रदेश का शाब्दिक अर्थ क्या है ?

हिमाचल शब्द संस्कृत के दो शब्दों की सन्धि से बना है । हिम का अर्थ है – बर्फ और अचल का अर्थ है – पर्वत । अत : बर्फ के पर्वत को ही हिमाचल कहा जाता है ।

पंजाब राज्य की सीमा हिमाचल प्रदेश के अधिकतम कितने जिलों को स्पर्श करती है।

पंजाब राज्य की सीमा हिमाचल प्रदेश के अधिकतम 5 जिलों को स्पर्श करती है।

हिमाचल के कांगड़ा जिला और मंडी जिला सर्वाधिक कितने जिलों की सीमाओं को स्पर्श करते हैं।

हिमाचल के कांगड़ा जिला और मंडी जिला सर्वाधिक 6 जिलों की सीमाओं को स्पर्श करते हैं।

हिमाचल प्रदेश का कुल क्षेत्रफल कितना है ?

हिमाचल का कुल क्षेत्रफल 55,673 वर्ग किमी॰ है।

हिमाचल प्रदेश का गठन कब हुआ था ?

15 अप्रैल 1948 को 30 छोटी-बड़ी रियासतों को मिलाकर

हिमाचल प्रदेश की प्रमुख नदियां कौन कौन सी है ?

सतलुज नदी, ब्यास नदी, यमुना नदी, रावी नदी और चिनाब नदी है।

क्षेत्रफल के आधार पर हिमाचल प्रदेश का सबसे बड़ा जिला कौन सा है ?

लाहौल स्पीति (13835 वर्ग किमी )

क्षेत्रफल के आधार पर हिमाचल प्रदेश का सबसे छोटा जिला कौन सा है ?

हमीरपुर ( 1118 वर्ग किमी )

Leave a Comment

Daily Himachal Gk

Recent Posts

Request For Post